Ambani in the race to invest in this company

इस कंपनी में निवेश करने की रेस में अंबानी, जानिए डिटेल्स

एक मीडिया रिपोर्ट के बाद, जिसमें कहा गया है कि रिलायंस रिटेल और फर्म नायका वुमेन अपेरल कंपनी में एक प्रमोटर पद हासिल करने में रुचि रखते हैं, जहां कंपनी के शेयरों की कीमत में वृद्धि हुई है

टीसीएनएस क्लोदिंग (टीसीएनएस क्लोथिंग शेयर) के शेयर बुधवार को 11 फीसदी बढ़कर 618.7 रुपये के दिन के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए मीडिया में आई एक खबर के बाद कंपनी के शेयर में तेजी आई है जिसमें कहा गया है कि फाल्गुनी नायर की नायका वुमन अपैरल कंपनी और मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल द्वारा प्रमोटर हिस्सेदारी पर विचार किया जा रहा है

यह है रिपोर्ट: एक मीडिया स्रोत का दावा है कि टीए एसोसिएट्स के टीसीएनएस कपड़ों में लगभग 29% स्वामित्व ने रिलायंस रिटेल, आदित्य बिड़ला फैशन, ट्रेंट, नायका और अन्य निजी इक्विटी निवेशकों (टीपीजी कैपिटल और एडवेंट इंटरनेशनल निवेशकों सहित) का ध्यान आकर्षित किया है. साथ ही निजी इक्विटी कंपनी एवेंडस कैपिटल शेयर बिक्री में उनकी सहायता कर रही है

Ambani in the race to invest in this company

स्टॉक एक साल में 25% गिर गया: पिछले एक साल में TCNS क्लोदिंग के शेयर की कीमत में करीब 25% की गिरावट आई है और अभी तक, स्टॉक 932.54 रुपये के 52-सप्ताह के उच्च स्तर से 35% नीचे है, वहीं ट्रेंडलाइन डेटा इंगित करता है कि यह स्टॉक 686.1 रुपये तक बढ़ सकता है. साथ ही अन्य ब्रांडों में, कंपनी के ब्रांडों के पोर्टफोलियो में विशफुल, डब्ल्यू, ऑरेलिया और इलेवन शामिल हैं

यह भी पढ़े – जानिए कौनसी सुविधाए मिलती है अंबानी अडानी के नौकरों को

कंपनी के बारे में: व्यवसाय ने भारतीय महिलाओं को एक समकालीन खुदरा सेटिंग में फैशन प्रदान करने के इरादे से 2002-2003 में दिल्ली में अपनी पहली डब्ल्यू दुकान खोली. कंपनी की शुरुआत आधुनिक भारतीय महिलाओं के बीच फैशनेबल, फंक्शनल रेडी-टू-वियर की मांग से हुआ था

यह भी पढ़े – इस कंपनी का शेयर चढ़ा 200%, जानिए स्टॉक का नाम

इन्होंने शुरुआती दिनों से 2 दशकों से भी कम समय में देश में महिलाओं की अग्रणी एथनिक/फ्यूजन परिधान कंपनी बनने का लंबा सफर तय किया है और स्वदेशी ब्रांड्स को इनक्यूबेट और स्केलिंग करते हुए, अब इनके पास 3 सेगमेंट डिफाइनिंग ब्रांड्स का पोर्टफोलियो है, जिनमें से प्रत्येक की फैशन सेंसिबिलिटी और वैल्यू चेन में अलग-अलग पोजिशनिंग है।

यह भी पढ़े – टाटा ग्रुप के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *