इन Apps से लिया लोन और हुआ दोखा तो नही मिलेगी RBI से मदद

यदि आप ऑनलाइन लोन लेने की सोच रहे हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें ऑनलाइन लोन प्रदान करने वाले एप्स की संख्या बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है और इनकी संख्या बढ़ने और इनमें से कई एप के द्वारा इस Scam भी किए जाते हैं साथ ही कई खतरे भी हैं जिनके कारण लोगों को समस्याओं का सामना भी करना पड़ जाता है आरबीआई जो कि भारत का केंद्रीय बैंक है उसके गवर्नर ने 8 जून को इन एप के बारे में कहा कि यदि कोई ऐप रजिस्टर्ड नहीं है और उस ऐप से आप लोन लेते हैं

आपको यदि लोन लेने पर किसी प्रकार की समस्या अर्थात खतरा होता है तो आप अपनी स्थायी पुलिस से संपर्क जरुर करना चाहिए लेकिन उन्होंने कहा कि “पंजीकृत संस्थाओं के खिलाफ़ ही कार्यवाही की जाएगी” इसलिए आप यदि ऑनलाइन एप की सहायता से लोन लेने की सोच रहे है तो लोन लेने से पहले यह जरूर चेक करें कि क्या आप जिसे एप से लोन ले रहे हैं वह पंजीकृत है

RBI Governor On Loan Apps

यह भी पढ़े – जानिए लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के लिए बेस्ट स्टॉक…..मिल सकता है तगड़ा रिटर्न 

ऐप की सहायता से लोन लेने से पहले इन बातों का मुख्य रूप से ध्यान रखें: आरबीआई ने बताया कि वह सिर्फ पंजीकृत संस्थाओं के मामलों की ही कार्रवाई करेगा यदि कर्ज लेने वाले व्यक्ति को कोई दिक्कत आती है और यदि आपने किसी ऐसे ऐप से लोन लिया है जो कि रजिस्टर्ड नहीं है

और आपको दिक्कत आ रही है तो आप अपने स्थानीय पुलिस स्टेशन पर शिकायत दर्ज कराई यदि आपको यह जानना है कि लोन देने वाले कौन कौन से ऐप रजिस्टर्ड है तो फिर आप आरबीआई की वेबसाइट पर जाकर पंजीकृत ऐप की लिस्ट देख सकते हैं 

यह भी पढ़े – जानिए एक स्टॉक के बारे में जिसने दिया 700 प्रतिशत रिटर्न

जानिए आरबीआई ने क्यों किया सतर्क: ऐसे मामले देखे गए हैं जिनमें लोगो ने लोन देने वाले अपंजीकृत एप का उपयोग किया इसके बाद में एजेंटों या फिर अधिकारियों के द्वारा उनका उत्पीडन किया गया तथा लोगो ने इससे परेशान होकर आत्महत्या कर ली लोग जब इन ऐप से लेते है तो उस समय यह ऐप उनकी कई पर्सनल इनफार्मेशन मांगता है

ये ऐप यूजर के मोबाइल कॉन्टेक्ट्स को एक्सेस करने की परमिशन लेता है और उसके बाद में लोन लेने वाले व्यक्ति के रिलेटिव के सामने लोन लेने वाले व्यक्ति को बदनाम किया जाता है और इस कारण कई आत्महत्या के केस देखे गए है  तथा आरबीआई ने बताया कि ज्यादातर एप्स जो कि लोन देते हैं वे आरबीआई से पंजीकृत नहीं है

यह भी पढ़े – जानिए इस साल में CNG का कितना बढ़ा भाव

Disclaimer: यह लेख कुछ आंकड़ों व अनुमानों के आधार पर लिखा गया है क्रिप्टो मार्केट (Cryptocurrency Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Funds),स्टॉक मार्किट (Stock Market) में अपनी रिस्क पर ही इन्वेस्ट करे तथा हम SEBI द्वारा रजिस्टर्ड फाइनेंसियल एडवाइजर नहीं है इसलिए यदि आपको किसी भी प्रकार का लॉस होता है तो इसके लिए हम जिम्मेदार नहीं है

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply