Ratan Tata Facts
|

टाटा ग्रुप की ये बाते बहुत कम लोग जानते है जानकर रह जायेंगे…….हैरान

टाटा ग्रुप लोगो के बिच बहुत अधिक बहुत समय से लोकप्रिय रहा है टाटा ग्रुप की शुरुआत 1868 में हुई थी ये इसके टाटा ग्रुप को जमशेदजी टाटा के द्वारा शुरू किया गया था ये सिर्फ इंडिया में ही नहीं ये विश्व के कई अन्य देशों मैं फैला हुआ है यह लगभग 175 देशों में फैला हुआ है जमशेदजी टाटा को फादर ऑफ इंडियन इंडस्ट्रीज के नाम से भी जाना जाता है

टाटा इंडिकाजो कि भारत की पहली स्वदेशी कार थी जिसेटाटा ग्रुप के द्वारा ही बनाया गया था इस कार को 1999 में लॉन्च किया गया था और ये कार सेगमेंट कीलीडर बन गईसिर्फ एक हफ्ते के अंदर इस कार की 1.15 लाख बुकिंग आ गई

भारत की पहली स्वदेशी कार का श्रेय जमशेद जी टाटा की कंपनी टाटा ग्रुप को जाता है रतन टाटा की कंपनी टाटा बहुत समय से भारत की सेना के लिए कॉम्बैट रेड्डी व कई अन्य वाहनों को बना रहा है और भारत की सेना के पास ज्यादातर वीइकल्स की सप्लाई की जाती है वह टाटा ग्रुप के द्वारा ही सप्लाई किये जाते है

Ratan Tata Facts

नैनो कारजो कि भारत की ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे सस्ती कार थी जिसे टाटा ग्रुप के द्वारा ही बनाया गया था इस कार को 2008 में लॉन्च किया गया था

और इसकी कीमत सिर्फ ₹1,00,000 थी यह लोगों के बीच बहुत अधिक पॉपुलर रही लेकिन बाद में टाटा ग्रुप के द्वारा कई अन्य कार भी लॉन्च की गई जिसके कारण लोगों के अंदर इस कार का क्रेज बहुत कम हो गया

 रतन टाटा एवं टाटा ग्रुप के फॉलोअर्स रतन टाटा और टाटा ग्रुप को दिल से फॉलो करते हैं इसका कारण एक यह भी है कि रतन टाटा एवं टाटा ग्रुप ने कभी भी शराब या तंबाकू के किसी भी बिज़नेस में इन्वेस्ट नहीं किया

और कभी भी उन्होंने बॉलीवुड की किसी भी फ़िल्म को फाइनैंस भी नहीं किया रतन टाटा तड़क भड़क अर्थात चका चौंध से हमेशा दूर रहते हैं हालाकि 2003 में उन्होंने एक बड़ी बजट वाली फ़िल्म जिसका नाम ऐतबार था उसे को-प्रोड्यूस किया

रतन टाटा की कंपनी टाटा ग्रुप में 7,00,000 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं और देखरेलवे और डिफेंस जो कि भारत में सबसे ज्यादा रोजगार अर्थात जॉब्स प्रोवाइड कराते हैं इनके बाद जिस कंपनी का नाम इस श्रेणी में सबसे ऊपर आता है वह है रतन टाटा का टाटा ग्रुप

यह भी पढ़े –

Disclaimer: यह लेख कुछ आंकड़ों व अनुमानों के आधार पर लिखा गया है क्रिप्टो मार्केट (Cryptocurrency Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Funds),स्टॉक मार्किट (Stock Market) में अपनी रिस्क पर ही इन्वेस्ट करे तथा हम SEBI द्वारा रजिस्टर्ड फाइनेंसियल एडवाइजर नहीं है इसलिए यदि आपको किसी भी प्रकार का लॉस होता है तो इसके लिए हम जिम्मेदार नहीं है

Similar Posts

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.